Translate

Translate

यह ब्लॉग खोजें

यह ब्लॉग खोजें

यह ब्लॉग खोजें

सोमवार, 2 मार्च 2015

budget 2015-2016

📌बजट में खास:-
✅पान मसाला, गुटखा, सिगरेट महंगा होगा।
✅ट्रांसपोर्ट अलाउंस पर टैक्स छूट 800 से बढ़ाकर 1600 रुपए की गई।
✅पेंशन फंड पर छूट एक लाख से बढ़ाकर 1.5 लाख रुपए की गई।
✅हेल्थ इंश्योरेंस पर छूट की सीमा 15 हजार से बढ़ाकर 25 हजार की गई। वरिष्ठ नागरिकों के लिए 30 हजार।
✅स्वच्छ भारत के लिए अलग से दो फीसदी सेस लगेगा।
✅एक हजार से अधिक मूल्य के चमड़े के जूते सस्ते होंगे।
✅सर्विस टैक्स 12.36 से बढ़ाकर 14 फीसदी करने का प्रस्ताव।
✅सुकन्या योजना में 80 सी के तहत छूट।
✅केंद्रीय एक्साइज ड्यूटी 12.5 फीसदी होगी।
✅एक लाख की ट्रांजेक्शन पर PAN देगा होगा। अब तक पचास हजार से ऊपर की ट्रांजेक्शन पर देना होता है PAN
✅अमीरों पर दो फीसदी सरचार्ज लगेगा।
✅उत्पादन के लिए विदेश से आने वाले पुर्जे सस्ते होंगे।
✅वेल्थ टैक्स खत्म, सुपर रिच सरचार्च लगेगा।
✅आम बजट 2015: पीएम सुरक्षा बीमा योजना होगी लॉन्च
✅मेक इन इंडिया के जरिए रोजगार सृजित किए जाएंगे।
✅काले धन को लेकर सरकार ने बजट में दिए सख्ती के संकेत।
✅विदेश में काला धन छिपाने पर सात साल की सजा होगी। आईटी रिटर्न में बतानी होगी विदेशी संपत्ति।
✅काला धन छिपाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।
✅इनकम टैक्स का स्लैब पुराने वाला ही रहेगा।
✅इनकम टैक्स में बदलाव नहीं। मिलने वाली छूट जारी रहेगी।
✅कॉर्पोरेट टैक्स में पांच फीसदी छूट। 30 से घटाकर 25 फीसदी किया जाएगा। रिबेट भी कम होगा।
✅अगले साल से जीएसटी लागू किए जाने की कोशिश।
✅नमामि गंगे योजना के लिए 4 हजार 71 करोड़ रुपये
✅टैक्स नीति स्थिर करने की जरूरत।
✅ISM धनबाद को आईआईटी का दर्जा दिया जाएगा
✅योजना खर्च- 465277 करोड़, गैर योजना करोड़- 1312200 करोड़।
✅सिंगापुर की तरह गुजरात में नया वित्तीय केंद्र बनेगा।
✅व्यावसायिक विवाद को सुलझाने के लिए नया कानून बनेगा।
✅नमामि गंगे 246727 करोड़ का प्रावधान।
✅स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए 33152 करोड़ रुपए का प्रावधान।
✅आवास एवं शहरी करोड़ के लिए 22407 करोड़ रुपए का प्रावधान।
✅बिहार और पश्चिम बंगाल को अतिरिक्त मदद का ऐलान।
✅अरुणाचल प्रदेश में फिल्म इंस्टिट्यूट।
✅जम्मू-कश्मीर और आंध्र प्रदेश में आईआईएम।
✅सरकारी खरीद में करप्शन रोकने के लिए प्रणाली बनाई जाएगी।
✅स्किल इंडिया और मेक इन इंडिया में तालमेल की जरूरत।
✅54 फीसदी युवा आबादी के लिए दक्षता बढ़ाने की जरूरत।
✅दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के लिए फंड की शुरुआत।
✅तमिलनाडु, असम, पंजाब, हिमाचल, जम्मू-कश्मीर में एम्स।
✅150 देशों के पर्यटकों को वीजा ऑन अरायवल की सुविधा दी जाएगी।
✅महिला सुरक्षाः निर्भया फंड में एक हजार करोड़ का प्रावधान।
✅देश में 25 वर्ल्ड हेरिटेज साइट हैं। इनके जीर्णोद्धार के लिए फंड की व्यवस्था।
✅इंडियन गोल्ड कॉइन जारी करेगी सरकार, अशोक स्तंभ बना होगा सिक्कों पर।
✅काले धन पर लगाम लगाने के लिए नकद ट्रांजेक्शन कम करने के उपाय होंगे।
✅काला धन रोकने के लिए उपाय किए जाएंगे।
✅गोल्ड अकाउंट में सोने पर भी मिलेगा ब्याज। गोल्ड बॉन्ड भी जारी होंगे।
✅ईपीएफ या एनपीएस चुनने का मिलेगा विकल्प।
✅EPF में कर्मचारियों को विकल्प मिलेगा।
✅जीएसटी लागू करने का लक्ष्य।
✅जेटली का कहना है कि सरकार चाहती है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर की टैक्स प्रणाली देश में लागू हो।
✅सेबी और एफएमसी का विलय होगा।
✅वायदा बाजार को और मजबूत करने और सट्टेबाजी रोकने की दिशा में काम होगा।
✅ज्यादा टैक्स मिला तो मनरेगा में पांच हजार करोड़ रुपए और देंगे।- जेटली
✅5 नई अल्ट्रा मेगा बिजली परियोजना की शुरुआत होगी। पांच हजार मेगावाट की होगी योजनाएं।
✅ई-बिज पोर्टल की शुरुआत, परमिशन के लिए भटकना नहीं पड़ेगा।
✅अल्पसंख्यक युवाओं के लिए नई मंजिल योजना शुरू की जाएगी। 3 हजार 738 करोड़ रुपये नई मंजिल योजना के लिए देगी सरकार।
✅आईटी इंडस्ट्री के सेटू नाम की योजना, 1000 करोड़ का फंड।
✅बंदरगाहों का अपनी कंपनियां बनाने की छूट दी जाएगी।
✅स्टार्ट्स अप के लिए एक हजार करोड़ रुपए का फंड।
✅रेल और रोड के लिए टैक्स फ्री बॉन्ड।
✅150 करोड़ रुपए रिसर्च और डिवलेपमेंट फंड की शुरुआत।
✅20 हजार करोड़ के इंफ्रास्ट्रक्चर फंड की घोषणा।
✅टैक्स फ्री इंफ्रास्ट्रक्चर बॉन्ड की शुरुआत होगी।
✅गरीब लोगों की सामाजिक सुरक्षा के लिए तीन योजना शुरू होगी। अटल पेंशन योजना, पीएम बीमा योजना और ज्याति ईपीएफ योजना।
✅अटल पेंशन योजना शुरू होगी। एक हजार सरकार देगी, एक हजार लोग।
✅प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना शुरु होगी। 12 रुपए के प्रीमियम पर दो लाख का बीमा।
✅प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना शुरु होगी।
✅2015-16 का बजटः किसानों का ऋण देने के लिए 8.5 लाख करोड़ का प्रावधान।
✅मनरेगा के लिए 34699 करोड़ रुपए का प्रावधान।
✅ग्रामीण विकास फंड के लिए 25 हजार करोड़ आवंटित करने का प्रावधान।
✅जेटली ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि अमीर लोग गैस सब्सिडी लेना छोड़ेंगे। सब्सिडी जरूरतमंदों तक पहुंचाने पर जोर रहेगा।
✅जेटली ने बजट में भूमि हेल्थ कार्ड का जिक्र किया।
✅जेटली ने कहा कि उनकी सरकार विनिवेश पर जोर देगी।
✅जेटली ने कहा कि अगले साल वेतन आयोग की सिफारिशें लागू करेंगे।
✅जेटली ने कहा कि वेतन आयोग की रिपोर्ट भी आनी है जो सरकारी कोष पर असर डालेगी।
✅इंफ्रास्ट्रक्चर में निजी निवेश की जरूरत है- जेटली
✅सरकारी घाटे को काबू में रखना है- जेटली
✅राजस्व का 62 फीसदी हिस्सा राज्यों को- जेटली
✅समावेशी विकास के लिए पूर्वोत्तर के राज्यों पर जोर देना होगा।
✅जीडीपी के 8 से 8.5 तक रहने का अनुमान है।
✅2022 तक हर परिवार को घर और परिवार के एक शख्स को रोजगार देने का लक्ष्य रखा गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें